Home   Wellness Plan   Events  Health Tips   Jobs   Blog

सफेद बाल हो जाएंगे काले, करें रोजाना ये 2 योगासन

KayaWell Icon

बालों के असमय सफेद होने और झड़ने की समस्‍या से हर कोई परेशान है। अनियमित खानपान और व्‍यायाम की कमी की वजह से शरीर में तमाम तरह की बीमारियां उत्‍पन्‍न हो रही हैं जिसका असर बालों पर पड़ रहा है। इस प्रकार की समस्‍या कम उम्र की महिला और पुरूषों में साफ देखने को मिलते हैं। आज हम आपको दो ऐसे योगासन के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे रोजाना करने से ना केवल आपके बाल काले, घने होंगे बल्कि अन्‍य कई तरह की बीमारियां भी दूर हो जाएंगी।

1: शीर्षासन

शीर्षासन से शरीर को मजबूती मिलती हैं और शरीर हष्ट -पुष्ट बनता हैं। बालों संबंधी समस्याओं, बालों के झड़ने की समस्या हो या फिर समय से पहले बाल सफेद होने की समस्या इनसे निजात पाने के लिए शीर्षासन करना चाहिए। शीर्षासन के जरिए ही मस्तिक में रक्त संचार बढ़ता हैं जिससे याददाश्त बढ़ाने में मदद मिलती हैं। कब्ज, हर्निया जैसी बीमारियों से निजात पाने के लिए शीर्षासन करना चाहिए।


शीर्षासन करने का तरीका

शीर्षासन किसी चद्दर या फिर कंबल पर करना चाहिए।

इसके लिए आपको किसी सपाट जगह का चयन करना चाहिए।

शीर्षासन के लिए सबसे पहले आपको वज्रासन में बैठना चाहिए। आप इस तरह से बैठें की आगे की ओर झुकने के लिए आपके पास भरपूर जगह हो।

वज्रासन में बैठकर आप दोनों कोहनियों को जमीन पर टिकाकर दोनों हाथों की अंगुलियों को आपस में मिला लें।

दोनों हाथों की अंगुलियों को मिलाकर आपकी हथेलियां ऊपर की ओर होनी चाहिए जिससे आप अपने सिर को हथेलियों का सहारा दे सकें।

धीरे-धीरे आगे की ओर झुकते हए अपने सिर को हथेलियों पर रखें और सांस सामान्य रखें। फिर धीरे-धीरे अपने सिर पर शरीर का भार आने दें।

इस स्थिति में आकर आपको अपने पैरों को आसमान की ओर उठाना है ठीक इस तरह से जैसे आप सीधें पैरों के बल खड़े होते हैं वैसे ही आप उल्टा सिर के बल खड़े हैं।

कुछ देर इसी स्थिती में रहें और फिर सामान्य स्थिति में वापस आ जाएं।



2: सर्वांगासन

यह आसन शरीर के सभी अंगो के लिए फायदेमंद है, इसलिए इसको सर्वांगासन (सर्व-अंग-आसन) कहा जाता है। इसे Shoulder Stand Pose भी कहा जाता हैं। यह आसन थॉयराइड व परावटु ग्रंथियों को सक्रिय करता है। हाथों व कन्धों को मज़बूत बनाता है और पीठ को अधिक लचीला बनाता है। अधिक रक्त पहुँचा कर मस्तिष्क का पोषण करता है। दिल कि मासपेशियों को सक्रिय करता है और शुद्ध रक्त को दिल तक पहुँचाता है। कब्ज़ से राहत देता है और पाचन क्रिया को सक्रिय बनाता है। इससे बालों को भी पोषण मिलता है, जिससे बाल काले घने होने के साथ झड़ना भी बंद हो जाते हैं।



सर्वांगासन करने का तरीका

अपनी पीठ के बल लेट जाएँ! एक साथ, अपने पैरों, कूल्हे और फिर कमर को उठाएँ। सारा भार आपके कन्धों पर आ जाये। अपनी पीठ को अपने हाथों से सहारा दे।

अपनी कोहनियों को पास में लें आयें| हाथों को पीठ के साथ रखें, कन्धों को सहारा देते रहें। कोहनियों को ज़मीन पर दबाते हुए और हाथों को कमर पर रखते हुए, अपनी कमर और पैरों को सीधा रखें। शरीर का पूरा भार आपके कन्धों व हाथों के ऊपरी हिस्से पर होना चाहिए, न कि आपके सर और गर्दन पर।

अपने पैरों को सीधा व मज़बूत रखें| अपने पैर कि एड़ी को इस भांति ऊँचा रखें जैसे आप छत को छूना चाहते हो। अपनी पैरों कि उँगलियों को नाक की सीध में लें आयें। अपनी गर्दन पर ध्यान दे, उसको ज़मीन पर न दबाएँ। अपनी गर्दन को मज़बूत रखें और उसकी मासपेशियों को सिकोड़ लें। अपनी छाती को ठोड़ी से लगा लें। यदि गर्दन में तनाव महसूस हो रहा है तो आसन से बहार आ जाएँ।

लंबी गहरी साँसे लेते रहें और 30-60 सेकण्ड्स तक आसन में ही रहें।

आसन से बहार आने के लिए, घुटनो को धीरे से माथे के पास लें कर आयें। हाथों को ज़मीन पर रखें| बिना सर को उठाये धीरे-धीरे कमर को नीचे लें कर आयें। पैरों को ज़मीन पर लें आयें। कम से कम 60 सेकण्ड्स के लिए विश्राम करें।

;