Home   Wellness Plan   Events  Health Tips   News

रोजाना दौड़ने से शुगर और ब्लड प्रेशर होता है सामान्य, जानें अन्य लाभ

KayaWell Icon

By KayaWell Expert
Useful for   
Heart Attack (Warning Signs)
Heart Disease
High Cholesterol
Lungs (Strong and Healthy)
Muscle Pain
Muscle Strain
Muscle
Bone and Joint
Cardiovascular
How This Helps   

जब बाहर मौसम खराब हो या आप बाहर जा कर दौड़ने की दिनचर्या से ऊब चुके हैं और परिवर्तन चाहते हैं तो ट्रेडमिल पर दौड़ना एक विकल्प है। अधिकतर ट्रेडमिलों में दौड़ने के विभिन्न कार्यक्रम और विकल्प होते हैं जिससे गति, प्रतिरोध और झुकाव को बढ़ाया या घटाया जा सकता है। दौड़ना एक उच्च तीव्रता वाला कार्डियोवास्कुलर वर्कआउट है जिसके कई शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य और फिटनेस लाभ हैं। यह सबसे अधिक आसानी से किया जा सकने वाला एरोबिक व्यायाम है। इसे आसानी से सीखा जा सकता है और दौड़ने के जूतों की एक अच्छी जोड़ी, आरामदायक कपड़े, पानी की बोतल और एक तौलिए के अलावा किसी भी महंगे उपकरण की आवश्यकता नहीं है।

क्यों जरूरी है रोज दौड़ना:-

♦ दौड़ने से कार्डियोवास्कुलर (दिल और रक्त वाहिकाओं) और श्वसन (फेफड़ों) फिटनेस में सुधार होता है। इससे एचडीएल का स्तर (उच्च घनत्व लेपोप्रोटीन) बढ़ जाता है जो दिल के अनुकूल कोलेस्ट्रॉल है। यह इष्टतम रक्तचाप रखता है, धमनियों की लोच को बनाए रखता है जो खून के थक्कों और दिल के दौरे के जोखिम कम करता है और इसी तरह बहुत सी दिल और फेफड़ों की बीमारियों और कुछ तरह के कैंसरों के खतरे को कम कर देता है।

यह भी पढ़े - नियमित दौड़ने वालों की उम्र होती है लंबी, जानें दौड़ने के फायदे

♦ यह एक उच्च ऊर्जा वाली गतिविधि है जिसमें कैलोरी की बहुत आवश्यकता होती है। इसी प्रकार जो लोग अतिरिक्त वजन और शरीर में वसा खोना चाहते हैं वे दौड़ लगा सकते हैं। दौड़ने के दौरान कैलोरी के जलने की संख्या धावक के शरीर के वजन, दौड़ की तीव्रता और धावक की दक्षता पर निर्भर करती है।

♦ यह डब्लू बी सी (सफेद रक्त कोशिकाएं जो रोगों से लड़ती हैं) के खून में केंद्रीयकरण के द्वारा प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है।

♦ दौड़ना एक वजन सहन करने वाली गतिविधि (दौड़ते हुए आप अपने शरीर का वजन सहन करते हैं) है इसलिए ये मांसपेशियों और हड्डियों को मजबूत बनाता है। इससे ऑस्टियोपोरोसिस का जोखिम कम हो जाता है।

♦ नियमित रूप से दौड़ने से शरीर की प्रणाली की कंडीशनिंग होती है जिससे उम्र बढ़ने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है। यह हड्डियों और मांसपेशियों जो हमारी उम्र के साथ कमजोर होती जाती हैं, के बनने और उन्हें मजबूत करने में मदद करता है।

♦ पगडंडी पर दौड़ने (उबड़-खाबड़ रास्तों पर दौड़ना) के लिए काफी संतुलन और समन्वय की आवश्यकता होती है। पत्थर, घास, पेड़ों की जड़ें आदि जैसी असमतल जगह पर दौड़ने से धावक अपने शरीर पर संतुलन और समन्वय रखना सीखता है जिससे वह गिरने या ठोकर खाने से बच सके। यहां तक कि समतल जगह पर शरीर को सीधा रखकर दौड़ने और एक समय में एक पैर पर खड़े होने के लिए भी संतुलन और समन्वय की आवश्यकता होती है।

♦ कई लोग बाहर दौड़ने के लिए जाते हैं जिससे वे दूसरों से मेल-जोल बढ़ा सकें। वे स्वास्थ्य और फिटनेस के लाभ प्राप्त करने के अलावा अच्छे दोस्त भी बना लेते हैं।

♦ दौड़ने के कई मनोवैज्ञानिक लाभ भी हैं। दौड़ते समय एंडोर्फिन नामक हार्मोन शरीर में छोड़ा जाता है जो फील गुड फैक्टर की भावना देता है। धावक खुश और तनावपूर्ण कम लगता है। चूंकि दौड़ना एक बहुत ही चुनौतीपूर्ण गतिविधि है यह हर सत्र को पूरा करने पर उपलब्धि और गर्व की भावना देती है।

यह भी पढ़े - टेरिस पर करें सिर्फ 15 मिनट रस्सी कूद, हमेशा रहेंगे फिट

इन गलतियों को करने से बचें:-

♦ एक गर्म और आर्द्र वातावरण में बाहर न दौड़ें क्योंकि इससे आपकी ऊर्जा और क्षमता खत्म हो जाएगी। गर्म मौसम में दौड़ना खतरनाक हो सकता है क्योंकि यह निर्जलीकरण, ऐंठन, हीट ऐक्जाशन और हीट स्ट्रोक पैदा कर सकता है। हीट ऐक्जाशन से हीट स्ट्रोक हो सकता है जो घातक हो सकता है। दौड़ने का सबसे अच्छा समय सुबह और देर शाम का है।

♦ इसके अलावा अगर मौसम बहुत ठंडा है तो बाहर न दौड़ें क्योंकि इससे हाइपोथर्मिया हो सकता है जिसमें शरीर का तापमान सामान्य से नीचे चला जाता है और खतरनाक हो सकता है। शीतदंश ठंड के मौसम में चलने की एक संभावित समस्या है। यह एक अन्य खतरनाक स्थिति है जिसमें त्वचा का रंग लाल हो जाता है और उसके बाद सुन्न हो जाती है।

♦ कठोर सतहों जैसे सीमेंट वाली सड़कों और ज़मीन पर दौड़ने से बचें। घास आउटडोर के लिए एक बेहतर विकल्प है। सख्त सतह पर नियमित रूप से उच्च तीव्रता और उच्च प्रभाव वाली गतिविधियां जैसे दौड़ना और जॉगिंग करने से मॅस्कुलोस्केलेटल (मांसपेशी और हड्डी ) की क्षति हो सकती है।


Comments

Popular Lab Test Packages

KayaWell Icon
;