CoronaVirus Updates | Confirmed Cases and Deaths | COVID-19 Symptom Checker (Click Here)
  Home   Wellness Plan   Events  Health Tips   News   Jobs   Blog

देवदार का पेड़ डायबिटीज वाले लोगों के लिए औषधि की तरह काम करता हैं, जानें इसके अन्य लाभ

KayaWell Icon

देवदार की छाल के पाउडर का प्रयोग कई तरह के सप्लीमेंट बनाने में भी किया जाता है। यह एक प्रकार का नैचुरल एंटीऑक्सीडेंट भी है। इसका प्रयोग कई बीमारियों को दूर करने के लिए भी किया जाता है। यह संक्रमण से भी बचाता है। देवदार बहुत लंबा पेड़ होता है जो पर्वतीय क्षेत्रों में पाया जाता है। आप जब भी पहाड़ों की सैर करने जाते होंगे आपको ये पेड़ दिखाई देते होंगे। लेकिन क्या आप इससे होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं? हम आपको यहां देवदार के फायदों के बारे में बता रहे हैं। 

देवदार की छाल के पाउडर का प्रयोग कई तरह के सप्लीमेंट बनाने में भी किया जाता है। यह एक प्रकार का नैचुरल एंटीऑक्सीडेंट भी है। इसका प्रयोग कई बीमारियों को दूर करने के लिए भी किया जाता है। यह संक्रमण से भी बचाता है। देवदार बहुत लंबा पेड़ होता है जो पर्वतीय क्षेत्रों में पाया जाता है। आप जब भी पहाड़ों की सैर करने जाते होंगे आपको ये पेड़ दिखाई देते होंगे। लेकिन क्या आप इससे होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं? हम आपको यहां देवदार के फायदों के बारे में बता रहे हैं। 

शुगर को नियंत्रित करे:-

शुगर की मात्रा अगर शरीर में अधिक हो जाये मधुमेह हो जाता है। शुगर को नियंत्रित करना बहुत मुश्किल काम होता है। देवदार की छाल को इस मामले में बहुत फायदेमंद माना जाता है। चीन में हुए शोध की मानें तो देवदार की छाल से बने पाउडर के प्रयोग से ब्लड शुगर को आसानी से नियंत्रित किया जा सकता है। मधुमेह के रोगियों के लिए यह बहुत ही गुणकारी औषधि है।

यह भी पढ़ें :- मधुमेह रोग का आयुर्वेदिक उपचार

बहरेपन को करे दूर:- 

कान की सबसे सामान्‍य समस्या है सुनने की क्षमता का ह्रास होना। चोट लगने या फिर दवाओं के संक्रमण से सुनने की क्षमता प्रभावित हो जा सकती है। इसके कारण ही वेस्टीब्यूबलोकोक्लीयर नर्व क्षतिग्रस्त हो जाती है और इसके कारण दिमाग को सही संदेश नहीं मिल पाते जिससे सुनने में कठिनाई होती है। ऐसे में एंटीऑक्सीडेंट युक्त देवदार की छाल फायदा पहुंचाती है। यह प्राकृतिक औषधि है जो सुनने की क्षमता को बढ़ाती है।

संक्रमण से बचाये:-

चोट लगने के बाद संक्रमण होना आम बात है, उन लोगों में अधिक संक्रमण होता है जिनकी प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। ऐसे में एंटीऑक्सीडेंट ही इस संक्रमण को रोकने का काम करता है जो देवदार की छाल में बहुतायत में होता है। शोध की मानें तो देवदार की छाल के पाउडर से ई कोली, स्टाफ संक्रमण और सूयोमोनस संक्रमण से बचाव किया जा सकता है।

यूवी किरणों से रक्षा करे:- 

सूर्य की किरणें हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी हैं, लेकिर अगर आप गलत वक्त पर सूर्य की किरणों के संपर्क में आते हैं तो सूर्य की पराबैंगनी किरणें आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाती हैं। ऐसे में देवदार की छाल प्रतिरोधक की तरह काम करता है। यह सूर्य की किरणों से होने वाले त्वचा के नुकसान से भी बचाता है। 

यह भी पढ़ें :- दिमाग शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय

पौरुष बढ़ाये:-

मेट्रो शहरों में लोगों की यौन क्षमता सबसे अधिक प्रभावित हो रही है, इसके कारण बांझपन और नपुंसकता के ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। इरेक्टाइल डिसफंक्शन यानी शीघ्रपतन भी ऐसी समस्या है जिसके शिकार पुरुष होते हैं। जापान में हुए शोध की मानें तो देवदार की छाल में पाइक्नोगेनॉल्टा और एल-आर्गिनाइन होता है जो इस समस्या से छुटकारा दिलाकर पौरुष क्षमता को बढ़ाता है।


Diabetes: Type I
Erectile Dysfunction
Erectile Dysfunction (ED)
Hearing Loss
Immune
Inflammatory and Infections
Infertility
Erectile Dysfunction (Impotence)
Sexually Transmitted Diseases
Female infertility
Premature ejaculation

Comments

Popular Lab Test Packages

KayaWell Icon