Home   Wellness Plan   Events  Health Tips   News

जानिए टोफू से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

KayaWell Icon
KayaWell Expert

मोटापे व अधिक वजन के नकारात्मक प्रभावों के बारे में बढ़ती जानकारी व स्वस्थ रहने में बढ़ते झुकाव के चलते टोफू रोशनी में आया है। वास्तविकता में इसका एक लम्बा इतिहास है। इसकी उत्पत्ति चीन में 2000 साल पहले हुई थी। टोफू या बीन का दही एक नरम चीज़़ जैसा पदार्थ है जो सोया के गाढ़े दूध से बना है। इस दूध पर दबाव दिया जाता है जिसके परिणामस्वरूप ये सफेद नरम क्यूब बनते है। प्रोटीन्स, मिनरल्स व कैल्शियम में प्रचुर होने के कारण ये मांस का अच्छा विकल्प है और शाकाहारीयों के लिए अनुकूल है। यह स्वास्थ के लिए लाभकारी मिनरल्स जैसे आयरन, कॉपर, मैग्नेशियम, मैंगनीज़, फॉस्फोरस और सेलेनियम से प्रचुर होता है।

टोफू के श्रेष्ठ स्वास्थ लाभ (Tofu ke Health Benefits)

टोफू के स्वास्थ लाभ अनगिनत हैं। ये ना केवल क्रोनिक बिमारियों जैसे डायबिटीज़ हाई ब्लड प्रेशर से सुरक्षा करता है बल्कि कुछ कैंसर जैसे ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर से भी बचाता है। साथ ही यह वजन घटाने में सहायक है और जवां त्वचा व अच्छे घने बाल भी प्रदान करता है।


1. हृदय स्वास्थ सुधार (Tofu for Health Heart)

विकसित देशों में हार्ट अटैक व हृदय-प्रणाली रोग मृत्यु का सबसे बड़ा कारण उभरे हैं और ये सब हमारी अस्वास्थकारी भोजन की आदतों के कारण जो कि अधिकतर प्रोसेस्ड फूड पर आधारित हैं। टोफू का नियमित सेवन आघात और अन्य हृदय संबधी-रोगों के खतरे को कम करने में मदद करता है क्योंकि टोफू रक्त में हानिकारक कोलेस्ट्रॉल, ट्राइग्लिसराइड्स और LDL स्तर को कम करने मे मदद करता है। साथ ही यह HDL या अच्छे कोलेस्ट्रॉल स्तर को बढ़़ाने में भी मददगार है।


2. ब्लड प्रेशर को सही बनाए रखना (Tofu for High Blood Pressure)

फरमेन्टेड टोफू में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं ओैर सूजन रोधी के तौर पर काम करते हैं। इससे सूजन व वाहिनियों को हानि कम होती है। ये हाई ब्लड प्रेशर को कम कर उसे नियंत्रण में रखने में मदद करता है। टोफू को अपने नियमित भोजन में शामिल करें व अपने हृदय को सूजन के हानिकारक प्रभाव से बचाएँ।


3. कैंसर से बचाव में मदद (Tofu for Cancer)

आज के समय में कैंसर पूरी दुनिया में मृत्युओं का एक सबसे बड़ा कारण है। टोफू फ्लेवोनॉयड्स व आइसोफ्लेवनायड्स का अच्छा स्त्रोत हैं जो कि कैंसर वाले सेल्स की बढ़़त रोकने में मदद करते हैं। जेनिस्टिन कैंसर रोकने वाले प्रोटीन्स की गतिविधियों से बढ़़ाता है जिससे कैंसर के सेल्स का बढ़़ना रुकता है, खास तौर पर ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर के मामले में।


4. मोटापे से लड़ना व वजन कम करने में मदद (Tofu for Obesity)

अत्याधिक कम कोलेस्ट्रॉल व वसा की मात्रा के कारण टोफू वजन और मोटापे को कम करने में असरदार रूप से मदद करता है। फरमेन्टेड टोफू के पेप्टेन्स सेल्स में खास फैटी एसिड्स को जमा होने को रोकते हैं जो कि फैट को जला कर मोटापे को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। अगर आप कुछ किलो वजन कम करना चाहते है, तो इस स्वस्थ भोजन को अपनी नियमित डाइट में शामिल करें।


5. टाइप-2 डायबिटीज़़ को रोकना (Tofu for Type-2 Diabetes)

कम फैट व कम कैलोरी के कारण टोफू डायबिटिक्स के लिए अनूकूल खाद्य पदार्थ है। सोया पदार्थ रक्त का इन्सुलिन के प्रति रोधन कम करने में सक्षम पाए गए हैं। रोज करीब 200 ग्राम टोफू का सेवन टाइप-2 डायबिटीज़ के खतरे को बहुत हद तक कम कर सकता है। टोफू में प्रोटीन्स व पोषक तत्वों का उच्च स्तर टाइप-2 डायबिटीज़ से ग्रस्त लोगों का रक्त शर्करा स्तर कम व नियंत्रित करने में मदद करता है।


6. त्वचा की उम्र बढ़ाना (Tofu for Anti Ageing)

टोफू ना सिर्फ स्वास्थ के लिए अच्छा है बल्कि ये त्वचा के लिए भी उम्दा है। टोफू के प्रोटीन्स त्वचा का लचीलापन सुधारने में और चेहरे की मांसपेशियों को खिंचा हुआ रखने में मदद करते हैं। ये हमारी त्वचा को युवा व नरम बनाते हैं। यह त्वचा को पोषित करता है और समय से पहले बढ़़ना रोकने में मदद करता है।


7. मेनोपॉज़ से संबंधित विकारों से बचाव (Tofu for Menopause Problem)

मेनोपॉज़ महिलाओं के लिए एक कठिन समय है। मेनोपॉज़ से पहले महिलाएँ एस्ट्रोजन होर्मोन के असंतुलन का अनुभव करती हैं जो कि कई प्रभाव छोड़ता है जैसे मूड़ का उतार-चढ़़ाव, नींद के विकार, सर दर्द, उत्तेजना और चक्कर आना।


टोफू में मौजूद फ्लेवोनॉयड्स व आइसोफ्लेवनायड्स शरीर में उचित एस्ट्रोजन का स्तर पुनःस्थापित करते हैं जिससे मेनोपॉज़ से जुड़े लक्षणों में राहत मिलती है। टोफू की उच्च कैल्शियम मात्रा ओस्टियोपोरोसिस व हड्डियों के खजने से भी सुरक्षा करती है जो कि महिलाओं में मेनोपॉज़ के बाद बहुत आम है।


8. रह्यूमेटॉइड गठिया से बचाव व हड्डियों के स्वास्थ में सुधार (Tofu for Arthritis)

कैल्शियम व मैग्नेशियम में प्रचुर होने के कारण, टोफू हड्डियों का स्वास्थ सुधारने में मदद करता है। टोफू में मौजूद सोया प्रोटीन बच्चों में हड्डियों के विकास व बड़ों में हड्डियों के खजने को रोकने में मदद करता है। साथ ही टोफू में मौजूद आइसोफ्लेवनायड्स 40-50 वर्ष की महिलाओं व उम्रदराज लोगों में गठिया व ऑस्टियोपोरोसिस को होने से रोकते हैं। स्वस्थ व मजबूत हड्डियों के लिए टोफू को बच्चों व बुजुर्गों के भोजन में सम्मिलित करें।


9. प्रतिरोधी तंत्र मे सुधार (Tofu for Better Immune System) 

प्रतिरोधी तंत्र हमारे शरीर की बाहरी जीवों और बिमारियों के खिलाफ प्राकृतिक सुरक्षा प्रणाली है। स्वस्थ शरीर के लिए प्रतिरोधी तंत्र की उचित कार्यप्रणाली को बरकरार रखना महत्त्वपूर्ण है। वैसे कई बाहरी तत्व इस कार्यप्रणाली को प्रभावित करते हैं किन्तु पोषण इसमें अह्म किरदार अदा करता है। टोफू प्रोटीन्स, पोषण तत्वों, मिनरल्स से भरपूर है जो प्रतिरोधी तंत्र की कार्यप्रणाली को सुधारने में मदद करता है।


10. बालों का झड़ना रोकना (Tofu for Hair Fall)

इंसानो के बाल मुख्यतः प्रोटीन से बने हैं और बालों के स्वास्थ, गुणवत्ता और चमक को बरकरार रखने के लिए प्रोटीन की जरूरत होती है। प्रोटीन और सेलेनियम जैसे मिनरल्स का अच्छा स्त्रोत होने के कारण टोफू बालों का झड़ना रोकता हैं व बालों की बढ़़त सुधारता है। चमकदार व सजीव बालों के लिए टोफू को अपने रोज़ के भोजन में सम्मिलित करें।

Arthritis
Cancer
Diabetes: Type II
Hair Loss
Heart Disease
High Blood Pressure
Menopause
Obesity

Comments

Popular Lab Test Packages

KayaWell Icon